ठंड और भूख से ढाई साल के बच्चे की मौत! माँ कूदी सेफ्टिक टैंक में

अंबिकापुर। मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक ढाई साल के मासूम बच्चे की संदेहास्पद परिस्थिति में मौत हो गई। मौत के पीछे की वजह भूख और ठंड से होने की बात कही जा रही है। अपने बच्चे की मौत का सदमा मां झेल नहीं पाई और अस्पताल के ही सेप्टिक टैंक में कूद गई। घटना के बाद आस-पास के लोगों ने महिला को बड़े ही मशक्कत के बाद सेप्टिक टैंक से बाहर निकाला।

यह घटना अम्बिकापुर के प्रतिक्षा बस स्टैंड की है। जानकारी के मुताबिक, रविवार सुबह अचानक एक औरत को रोता बिलखता देखकर लोगों ने इसकी सूचना बस स्टैंड पुलिस स्टाफ को दी। पूछताछ में पता चला कि उसके ढाई साल के बच्चे की सांस रुक गई है। लिहाजा पुलिस ने महिला और उसके बच्चे को मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचा दिया। अस्पताल के डॉक्टरों ने बच्चे को मृत को घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि बच्चे के शरीर में कम कपड़े थे। पुलिस कयास लगा रही है कि बच्चे की मौत ठंड और भूख की वजहस से हो सकती है। फिलहाल, मौत के पीछे की वजह सामने नहीं आई है।

ढाई साल के मासूम बच्चे की इस तरह मौत की खबर सुनकर महिला की मानसिक स्थिती खराब हो गई है और उसने सदमे में आकर आत्महत्या का भी प्रयास किया है। महिला अस्पताल के सेप्टिक टैंक में कूद गई है। हालांकि प्रत्यक्षदर्शियों ने किसी तरह उसको बाहर निकाल कर उसकी जान बचा ली।

जानकारी के मुताबिक बलरामपुर जिले की रहने वाली है और वहां से झारखंड जाने के लिए निकली थी लेकिन भटक गई और बस मार्ग से अम्बिकापुर आ गई थी। रात गुजारने के लिए वो अम्बिकापुर के बस स्टैंड में रूकी थी।