नक्सलियों ने की पूर्व आरक्षक की हत्या, पत्नी लड़ रही थी सरपंच का चुनाव

बीजापुर। नक्सलियों द्वारा एक बड़ी वारदात को अंजाम देने की खबर आ रही है। नक्सलियों ने एक पूर्व सहायक आरक्षक की अपहरण के बाद हत्या कर दी है। मृतक की पत्नी सरपंच का चुनाव लड़ रही है। माना जा रहा है कि पुलिस मुखबिरी के शक और पत्नी के सरपंच चुनाव लड़ने के विरोध में ही इस वारदात को अंजाम दिया है।

पूर्व आरक्षक का नाम बलदेव ताती है। बलदेव का अपहरण उस वक्त किया गया था, जब वो देर शाम अपने घर लौट रहा था, तभी बीजापुर-गंगालूर मार्ग पर कड़ेनार के पास नक्सलियों ने उनका रास्ता रोककर अपहरण कर लिया था।
उसकी लाश आज सुबह उसी के गांव के करीब सड़क पर पड़ी मिली है। शव की हालत देखकर प्रतीत हो रहा है कि पत्थर और भारी समान से उसके सर को कुचला गया है। पुलिस मौके पर पहुंच रही है।

इधर अपहरण के बाद हत्या की घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी, वहीं पुलिस भी अपने स्तर से पूर्व आरक्षक की तलाश कर रही है। पूर्व आरक्षक की पत्नी ने नक्सलियों से छोड़ने की अपील की थी, लेकिन नक्सलियों ने हत्या कर दी।