राजधानी में 30 हज़ार की चरस के साथ आरोपी गिरफ्तार- मुखबिर की सूचना पर आया शिकंजे में..

रायपुर:

ओडिशा से चरस लाकर राजधानी रायपुर में खपाने पहुंचे एक अधेड़ तस्कर को शनिवार देर रात राजेंद्रनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तलाशी लेने पर उसके बैग से लड्डू की शक्ल में 50 ग्राम चरस बरामद किया गया। जब्त चरस की कीमत 30 हजार रुपये बताया जा रहा है। पुरानी बस्ती सीएसपी कृष्ण कुमार पटेल ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि संजयनगर, टिकरापारा का जमीर रिजवान अली (61) ओड़िशा से चरस की तस्करी कर रायपुर में लाकर उसे दोगुने दाम पर बेच रहा है। पुलिस टीम ने पचपेढ़ी नाका ओवरब्रिज के नीचे बैग के साथ खड़े जमीर रिजवान अली को पकड़कर पूछताछ की फिर बैग की तलाशी ली गई तो एक प्लास्टिक की झिल्ली के अंदर तीन लड्डू की शक्ल में हल्का भूरा, काले रंग का 50 ग्राम चरस और नकदी दो सौ रुपये मिला। जमीर चरस की डिलेवरी करने पहुंचा था। मामले में आरोपित के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट की धारा 18 के तहत अपराध कायम कर रविवार को उसे जेल भेज दिया गया।

वर्षों बाद पकड़ा गया चरस

राजधानी में कई सालों बाद चरस की तस्करी का भंडाफोड़ हुआ है। इससे पहले ओड़िशा के रास्ते से गांजा, पंजाब-हरियाणा और दिल्ली से डोडा और नागपुर से ब्राउन सुगर लाकर यहां खपाने वाले कई आरोपित पकड़े गए है। पुलिस अफसरों का कहना है कि आरोपित चरस की डिलेवरी किसे करने वाला था, इस बारे में आरोपित से अहम जानकारी मिली है। वहीं ओड़िशा के चरस तस्कर का भी नाम, पता भी उसने बताया है।

माफी बदमाश है तस्कर

चरस के साथ पकड़े गए जमीर रिजवान अली गोलबाजार थाने का माफी बदमाश है। वह लंबे समय तक अपराधिक गतिविधियों में लिफ्त रहा है। अधेड़ होने के कारण पिछले कुछ सालों से वह अपराध नहीं कर रहा था जिसकी वजह से पुलिस ने उसे माफी देकर निगरानी बदमाशों की सूची से अलग कर दिया था। इसका फायदा उठाकर उसने ओड़िशा से चरस की तस्करी करना शुरू कर दिया।