BOLLYWOOD | दिलीप कुमार की 5 शानदार फिल्में, जो आज भी हैं शानदार, क्या आपने देखी हैं ये लाजवाब फिल्में

मुंबई: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार का निधन हो गया है। आज सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर उन्होंने आखिरी सांस ली। दिलीप कुमार को सांस लेने में दिक्कत के चलते 30 जून को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

हिंदी सिनेमा जगत में अपना एक अलग मुकाम हासिल करने वाले दिलीप साहब और उनके परिवार को मुंबई आने के बाद आर्थिक तंगहाली से गुज़रना पड़ा किसी तरह मुंबई आने के बाद दिलीप कुमार ने अपने जीवन में कई संघर्षों का सामना करते हुए एक आम इंसान से हिंदी सिनेमा के ट्रैजेडी किंग बनने तक का सफर तय किया।

दिलीप कुमार का फिल्मी करियर 1944 में ’ज्वार भाटा’ फिल्म से शुरू हुआ, लेकिन 1949 में बनी महबूब खान की फिल्म ’अंदाज’ से वह चर्चा में आये। उनकी पहली हिट फिल्म ’जुगनू’ थी। 1947 में रिलीज हुई इस फिल्म ने बॉलीवुड में दिलीप कुमार को हिट फिल्मों के स्टार की श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया।

1949 में फिल्म ’अंदाज’ में दिलीप कुमार ने पहली बार राजकपूर के साथ काम किया। यह फिल्म एक हिट साबित हुई। दीदार(1951) और देवदास(1955) जैसी फिल्मों में गंभीर भूमिकाओं के लिए मशहूर होने के कारण उन्हें ट्रैजेडी किंग कहा जाने लगा। मुगल-ए-आज़म (1960) में उन्होंने मुगल राजकुमार जहांगीर की भूमिका निभाई।

कर्मा
बॉलीवुड में 80 के देशक की सबसे सुपरहिट फिल्मों की बात की जाए तो इसमें ’कर्मा’ का नाम भी सामने आता है। इस फिल्म में दिलीप कुमार ने एक पुलिस वाले की भूमिका निभाई है। फिल्म में ’अनिल कपूर’ और ’जैकी श्रॉफ’ भी मुख्या भूमिका में हैं। इस फिल्म के गीत इतने लोकप्रिय हुए हैं कि आज भी स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस पर हमेशा सुनने को मिल जाते हैं।

ये भी पढ़ें :-   Controversy | आलिया भट्ट के नए विज्ञापन पर विवाद, यूजर्स ने लगाई मेकर्स की क्लास, क्या आपने देखा है ये विज्ञापन?

क्रांति
ड्रामा और एक्शन से भरपूर फिल्म ’क्रांति’ अभिनेता दिलीप कुमार की कभी ना भूलने वाली फिल्मों में से एक रही है। फिल्म में अभिनेता शशि कपूर, शत्रुघन सिन्हा और अभिनेत्री हेमा मालिनी भी मुख्या भूमिका में हैं। दिलीप साहब की इस फिल्म ने सिनेमा घरों में अपार सफलता हासिल की थी।

मुगले आजम
बॉलीवुड में कुछ फिल्में ऐसे रही हैं जिनके किरदार हमेशा के लिए जीवित हो गए हैं। भारतीय सिनेमा की ऐसे ही एक फिल्म रही है ’मुगले आजम’। सन 1960 में आई इस फिल्म में दिलीप कुमार ने राजकुमार सलीम का किरदार निभाया था। फिल्म इतनी हिट रही थी की आज भी इसकी कहानी के ऊपर गली मोहल्लों में नाटक का मंचन किया जाता है।

देवदास
भारत की सबसे भावुक कर देने वाली उपन्यास में से एक रही है ’देवदास’। यूं तो इसके ऊपर कई फिल्में बन चुकी हैं लेकिन हिंदी सिनेमा में सबसे पहले अभिनेता दिलीप कुमार को लेकर यह फिल्म बनाई गयी थी। सन 1955 में आयी इस फिल्म में दिलीप कुमार जी के किरदार को आज भी याद किया जाता है।

राम और श्याम
इस फिल्म में दिलीप जी ने जुड़वाँ लड़कों की भूमिका अदा की थी जिनके नाम राम और श्याम थे। दिलीप कुमार द्वारा इस फिल्म में निभाए शानदार अभिनय को देख दर्शक उनके अभिनय के मुरीद हो गए थे।

  • Mats Advt