OFF BEAT | इस खूबसूरत लड़की की हत्या का जुर्म 500 लोगों ने कबूला था, 74 साल बाद भी किसी को नहीं मिल पायी सजा, हैरान कर देगी ये मर्डर मिस्ट्री

नई दिल्ली: आज हम आपको एक ऐसी मर्डर मिस्ट्री के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी कहानी पढ़कर आपको हैरानी होगी। साल 1947 में अमेरिका के लॉस एंजेलिस में एक खूबसूरत लड़की को बड़े ही निर्मम तरीके से मौत के घाट उतार दिया गया था। इस खूबसूरत लड़की को दो टुकड़ो में काटकर उसका मर्डर कर दिया गया था।

आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि इस लड़की की हत्या में आज तक 500 से अधिक लोग अपने सिर पर जुर्म ले चुके हैं, लेकिन 74 साल बाद भी पुलिस हत्या के असली अपराधी को नहीं पकड़ सकी है और न ही असली अपराधी को सजा दिलवा सकी है। यहां तक कि पुलिस यह भी पता लगाने में सफल नहीं हुई कि लड़की की हत्या आखिर क्यों की गई?

हॉलीवुड फिल्मों में एक्ट्रेस बनना चाहती थीं एलिजाबेथ
29 जुलाई, 1924 को मैसाचुसेट्स के बोस्टन में एलिजाबेथ शॉर्ट नामक एक खूबसूरत लड़की का जन्म हुआ था। उसका उपनाम ब्लैक डाहलिया था। कम उम्र से ही शॉर्ट को फिल्मों से बहुत प्यार था। जब वह बड़ी हुई तो वह एक्ट्रेस बनने का सपना देखने लगी। साल 1940 में 16 साल की उम्र में वह कैलिफोर्निया के लॉस एंजेलिस में आकर रहने लगी। वहां उसे हॉलीवुड फिल्मों में काम करने के लिए एक चांस का इंतजार था।

खौफनाक है मौत की कहानी
जब तक एलिजाबेथ को काम नहीं मिला, तब उसने वेट्रेस के रूप में काम करने का फैसला किया। लेकिन 9 जनवरी 1947 को सब कुछ अचानक से बदल गया। एलिजाबेथ शॉर्ट न जाने कहां गायब हो गई। पांच दिन बाद साउथ नॉर्टन एवेन्यू के 3800 ब्लॉक स्थित लीमर्ट पार्क के पास पुलिस ने एलिजाबेथ शॉर्ट की कमर से नीचे कटी हुई लाश बरामद की। उसके चेहरे को मुंह से कान तक चीर दिया गया था और कमर से नीचे के शरीर को दो भागों में काट दिया गया था।

शुरुआत में 60 लोगों ने कबूला जुर्म
एलिजाबेथ की हत्या की शुरुआत में पुलिस के सामने 60 लोगों ने कबूला था कि उन्होंने यह निर्मम हत्या की है। हालांकि पुलिस ने इन सभी को छोड़ दिया, क्योंकि इनका जुर्म साबित नहीं हो पाया। इसके बाद लगातार इस हत्या के मामले में कई लोग सामने आए और उन्होंने मर्डर के जुर्म को अपने सिर पर लिया। हालांकि यहां पर भी साबित नहीं हो पाया कि हत्या इनमें से किसी ने की है। आप जानकर दंग रह जाएंगे कि इनमें से कई लोग ऐसे भी थे जो एलिजाबेथ हत्याकांड के बाद पैदा हुए थे। अब तक इस मामले में 500 से ज्यादा लोगों ने सामने आकर जुर्म कबूला है, लेकिन किसी को इस मामले में सजा नहीं हुई है।