रेलवे स्टेशन हैं या रिश्तेदारों के नाम? हमारे देश के इन स्टेशनों के नाम पढ़कर छूट जाएगी आपकी भी हंसी, जरा आप भी नजर डालिए

नई दिल्लीःदेश के कई रेलवे स्टेशनों (Indian Railway) के नाम अजब-गजब हैं, जब भी कोई पढ़ता है तो उसके चेहरे पर मुस्कान जरूर आ जाती है. कुछ नाम तो ऐसे होते हैं जिनको लेने में लोग शरमा जाते हैं. इन नामों को सुनते ही लोगों की हंसी छूट जाती है. यहां के रहने वालों से कई बार इन नामों को लेकर ही हंसी ठिठोली करते हैं. इनके नामों के साथ फोटो क्लिक करने से लोग चूकते नहीं हैं. चलिए हम सबसे पहले राजस्थान के जोधपुर जिले से शुरू करते हैं. यहां जोधपुर ‘साली’ (Sali railway station) रेलवे स्टेशन है. ये अजमेर (Ajmer news) से करीब 53 किमी दूर है. ये उत्तरी-पश्चिम रेलवे से जुड़ा है.

क्या आपने कभी सुने हैं ऐसे रेलवे स्टेशन के नाम?
वहीं, उदयपुर के पास एक रेलवे स्टेशन ऐसा है जिसका नाम ‘नाना’ है. यह सिरोही पिंडवारा में है. ये स्टेशन उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर डिवीजन में है. ये स्टेशन राजस्थान के पोखकर के बेहद करीब है. ये रहें साली और नाना के नाम, चलिए हम एक और अजीबोगरीब रेलवे स्टेशन के नाम के बारे में बतलाते हैं. राजस्थान के जोधपुर जिले के करीब एक बाप नाम का रेलवे स्टेशन है, जहां का साइन बोर्ड अक्सर सोशल मीडिया पर वायरल होता रहता है. इतना ही नहीं, लोग इस स्टेशन पर उतरकर सेल्फी भी लेते हैं. राजस्थान का ही एक और स्टेशन काफी मशहूर हो चुका है.

राजस्थान में कई रेलवे स्टेशन, जिनके नाम हैं अनोखे
जी हां, सोशल मीडिया पर इस रेलवे स्टेशन को भी लोग सर्च करते हैं, क्योंकि ये नाम रिश्तेदारों के नाम की तरह लगते हैं. राजस्थान में एक और नाम मशहूर है, जो इंटरनेट पर ट्रोलिंग के दौरान यूजर करते हैं. राजस्थान के जैसलमेर जिले में एक ऐसा रेलवे स्टेशन है जिसे पढ़ने के बाद लोग मजाक बनाते हैं. इस स्टेशन का नाम है ओढनिया चाचा रेलवे स्टेशन. यह स्टेशन जैसलमेर से 93.6 किलोमीटर दूर है. ऐसे राजस्थान में कई और रेलवे स्टेशन हैं, जिनके नाम काफी मशहूर हैं- जैसे गुड़िया, फलाना, बस्सी आदि.

ये भी पढ़ें :-   ZARA HAT KE | इस गांव में दुल्हन को सफेद लिबास में किया जाता है विदा, मां-बाप खुद करते हैं ये काम, दूल्हे के घर भी होते हैं फेरे