7 बजे तक मैदान हो जाता है खाली, ताकि आईएएस अफसर अपने कुत्ते को टहला सकें, कोच और खिलाड़ी अफसरशाही से हलाकान

नई दिल्लीः दिल्ली सरकार द्वारा संचालित त्यागराज स्टेडियम में एथलीट और कोच सामान्य शाम 7 बजे के बाद प्रैक्टिस नहीं कर सकते, इसकी वजह है कि यहां शाम में आईएएस अफसर स्टेडियम में आते हैं और उनके साथ उनका कुत्ता भी टहलने आता है। एथलीट और कोच को इसी वजह से प्रैक्टिस खत्म करने को मजबूर होना पड़ता है।

दरअसल एक कोच ने दावा किया है कि पहले वे रात 8 या 8.30 बजे तक ट्रेनिंग करते थे. लेकिन अब उनको 7 बजे ग्राउंड खाली करने को कह दिया जाता है ताकि आईएएस अफसर वहां अपने कुत्ते संग टहल सकें। कोच ने कहा कि इससे उनकी ट्रेनिंग और प्रैक्टिस रूटीन में दिक्कत पैदा हो रही है। संजीव खिरवार 1994 बैच के आईएएस अफसर हैं। मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को बिल्कुल गलत बताया है। उन्होंने ये तो कबूला कि वह कभी कभी कुत्ते को वहां टहलाने लेकर जाते हैं, लेकिन इस बात से इनकार किया कि इससे एथलीट्स की प्रैक्टिस में रुकावट आती है।

बता दें एक बड़े अखबार ने सात दिनों तक स्टेडियम पर नजर बनाए रखी और ये पाया कि शाम लगभग 6.30 तक स्टेडियम के गार्डों मैदान को बिल्कुल खाली करा देते हैं। हालांकि आईएएस अधिकारी अपने ऊपर लगे आरोपों से साफ इनकार कर रहे हैं। वहीं स्टेडियम प्रशासक अजीत चौधरी का कहना है कि गर्मी को देखते हुए ट्रेनिंग के शाम सात बजे तक ही चलने की अनुमति देने का फैसला लिया गया है।