GOOD NEWS | 6-12 आयुवर्ग के बच्चों को भी अब लगेगी कोरोना वैक्सीन, डीसीजीआई ने दी मंजूरी


नई दिल्ली: कोरोनावायरस से बचाव के लिए बच्चों को नया हथियार मिल गया है। खबर है कि ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने 6-12 आयुवर्ग के लिए कोवैक्सीन की आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दे दी है। शुक्रवार को ही सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने इस उम्र के बच्चों के लिए कोवैक्सीन की सिफारिश की थी। हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन तैयार की है।

वयस्कों के टीकाकरण में कोविशील्ड के अलावा कोवैक्सीन का भी इस्तेमाल हुआ था। फिलहाल, 15 से 18 साल के बच्चों को यह वैक्सीन दी जा रही है। गुरुवार को हुई बैठक में एसईसी ने भारत बायोटेक के आवेदन पर विचार किया था। हालांकि, शुक्रवार को कंपनी की तरफ से बताए गए डेटा के बाद एक्सपर्ट्स ने अतिरिक्त जानकारी मांगी थी।

कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच एक बार फिर बच्चों के टीकाकरण के प्रति ध्यान बढ़ा है। गुरुवार ने एसईसी ने 5 से 12 साल के बच्चों के लिए बायोलॉजिकल ई की कॉर्बिवैक्स के इस्तेमाल की सिफारिश की थी। फिलहाल, कॉर्बिवैक्स 12 से 14 साल के बच्चों को दी जा रही है। भारत में 15-18 साल के बच्चों का टीकाकरण जनवरी से शुरू हो गया था। मार्च में इसे 12 साल से ऊपर के बच्चों के लिए भी हरी झंडी दी गई।

भारत में टीकाकरण के हाल
26 अप्रैल 2022 को सुबह 7 बजे तक के सरकारी आंकड़े बताते हैं कि अब तक देश में 187 करोड़ 95 लाख 76 हजार 423 डोज लगाए जा चुके हैं। वहीं, 12-14 साल के बच्चों के मामले में पहले डोज की संख्या 2 करोड़ 70 लाख 96 हजार 975 है। जबकि, 37 लाख 27 हजार 130 दूसरे डोज लगाए गए हैं।