CS सुनील कुजूर को छह महीने का एक्सटेंशन!, राज्य सरकार ने केंद्र को भेजा प्रस्ताव

रायपुर:

चीफ सिकरेट्री सुनील कुजूर को राज्य सरकार एक्सटेंशन देने की तैयारी में है। इसी साल 31 अक्टूबर को रिटायर होने वाले कुजूर के लिए एक्सटेंशन का प्रस्ताव सेंट्रल को भेज दिया गया है। अगर सब कुछ सही रहा तो एक्सटेंशन के साथ ही कुजूर का नाम छत्तीसगढ़ के इतिहास में दर्ज हो जायेगा। वो एक्सटेंशन पाने वाले सूबे के पहले मुख्य सचिव होंगे। 1986 बैच के इस इस आईएएस अफसर को अगर एक्सटेंशन मिला तो निश्चित तौर पर उन अफसरों के लिए झटका होगा, जो चीफ सिकरेट्री के रेस में हैं।

वैसे देखा जाये तो चीफ सिकरेट्री के लिए छत्तीसगढ़ में अभी कई अफसर कतार में हैं। जाहिर है उनमें काबिल अफसरों की भी कमी नहीं है। वैसे देखा जाये तो अक्टूबर में रिटायरमेंट के मद्देनजर कुजूर के उत्तराधिकारी के तौर 87 बैच के सीके खेतान, आरपी मंडल का नाम चर्चा में है। इसकी बड़ी वजह ये थी कि कुजूर के बाद सीनियरिटी के लिहाज से इन्ही का नंबर आता था। हालांकि, इसी बैच में बीवीआर सुब्रमण्यिम भी हैं। लेकिन, अभी राज्य से बाहर हैं। डेपुटेशन पर वे जम्मू-कश्मीर के सीएस हैं।

लिहाजा खेतान और मंडल का दावा मजबूत माना जा रहा है। सभी अफसरों की सरकार से अच्छी ट्यूनिंग भी है। मगर राज्य के प्रस्ताव को भारत सरकार ने अनुमति दे दी तो उन्हें झटका लगेगा।
वैसे देखा जाये तो सीनियरिटी के लिहाज से अजय सिंह सबसे ऊपर हैं। 1983 बैच के ये अफसर पहले रमन सिंह और बाद भूपेश बघेल के भी महीना भर चीफ सिकरेट्री रह चुके हैं। लेकिन, अब उन्हें चांस मिलना नामुमकिन है।