यहां रुपयों के लिए लोग बेच देते हैं अपनी बच्चियां, सालों से चली आ रही है परंपरा, एक्टिविस्ट अब कर रहे हैं विरोध

नई दिल्ली: मैक्सिको के ग्युरेरो राज्य में एक अजीब प्रचलन है। यहां घर की बेटियों को कम उम्र में बतौर दुल्हन रुपयों के बदले बेच दिया जाता है। माता-पिता महज डेढ़ लाख रुपयों के लिए अपनी मासूम बच्चियों को बेचने से गुरेज नहीं करते। दक्षिण मैक्सिको के ग्युरेरो में यह प्रथा कई सालों से काबिज है, लेकिन अब कई लोग, एक्टिविस्ट व समूह इस परंपरा का विरोध करने लगे हैं।

जानवरों को बेचा जाता है इंसानों को नहीं
इस परंपरा को लेकर 23 साल की एलोइना फेलिसियानो ने कहा, ‘मुझे महज 14 साल की उम्र बेच दिया गया था। मैंने मां से गुजारिश की थी कि मुझे बेचा नहीं जाना चाहिए, लेकिन मेरी विनती बेकार गई।’ एलोइना ने आगे कहा, ‘बेचा तो जानवरों को जाता है। हम जानवर नहीं, इंसान हैं।’ 61 साल की मौरिलिया जूलियो को भी कम उम्र में बेच दिया गया था। जूलियो ने कहा, ‘लोग लड़की को खरीदने के लिए माता-पितो को सताते भी हैं। कई महिलाएं अपनी इच्छा से अपनी बेटियों को बेच देती है। वह कहती हैं कि मैं अपनी बेटी को 5,500 डॉलर से लेकर 6,000 डॉलर में बेच रही हूं, क्योंकि मुझे पैसे चाहिए, लेकिन यह सुनकर मुझे दुख होता है क्योंकि वे तो उनके ही बच्चे हैं।’

वहीं, कुछ एक्टिविस्ट कहना है कि ग्युरेरो में आज भी दर्जनों समुदायों में इस तरह के समझौते किए जाते हैं। दुल्हन के माता-पिता 1.45 लाख रुपये से लेकर 13 लाख रुपये तक की मांग करते हैं और कम उम्र में बेचने के नाम पर बच्चियों की शादी करा देते हैं। इस मसले पर सेंटर ऑफ ह्यूमन राइट्स ऑफ द माउंटेन के निदेशक एबेल बैरेरा ने कहा, ‘यहां लड़कियां बिल्कुल असुरक्षित हैं। उनका नया परिवार उन्हें घरेलू और कृषि कार्यों के साथ गुलाम बनाता है। कभी-कभी ससुराल वाले उनका यौन शोषण भी करते हैं। यहां लड़कियां वस्तु बन गई हैं।श्

एक रिपोर्ट के अनुसार ग्युरेरो में पिछले साल 9 से 17 साल के बीच की लड़कियों ने तीन हजार से ज्यादा बच्चियों को जन्म दिया। उनमें से कुछ को पैसों के लिए बेच दिया गया। 29 साल के विक्टर मोरेनो ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि यह परंपरा बदल जाए, लेकिन कुछ पिता कहते हैं कि मैं जो चाहता हूं, वही करूंगा क्योंकि मेरी बेटी है। कोई मुझे यह नहीं बताएगा कि क्या करना है।’