Health | यदि आपको भी आती है बहुत ज्यादा पाद, कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये उपाय

नई दिल्लीः अगर कभी पब्लिक या काम की जगह हमें फार्ट आ जाता है और हमें उस पर कंट्रोल नहीं कर पाते हैं तो हमें काफी शर्मिंदगी महसूस होती है। हालांकि यह कोई शर्मिंदगी की बात नहीं है क्योंकि फार्ट आना एक प्राकृतिक चीज है और यह आपको ब्लोटिंग और गैस आदि से छुटकारा दिलवाता है। डॉक्टर के अनुसार दिन में एक सामान्य व्यक्ति 10 से 20 बार गैस रिलीज कर सकता है। यह बिल्कुल सामान्य बात है। यह आपके पाचन सिस्टम से गैस पास होने का एक आसान तरीका है। पाद आने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे कि किसी दवा की वजह से, फूड एलर्जी की वजह से, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम, कब्ज या सिलियक डिजीज की वजह से भी ऐसा हो सकता है। अगर आपको ज्यादा पाद आती है तो इसे कम करने के लिए आप ये उपाय अपना सकते हैं।

धीरे धीरे खाना खाएं
यदि आपको जल्दी जल्दी खाना खाने की आदत है तो आप जान लें कि इसके साथ आप कुछ हवा की मात्रा भी साथ में अंदर ले लेते हैं। जिसकी वजह से पेट में गैस, ब्लोटिंग और एसिडिटी होने लगती है। इसलिए खाना खाते समय आपको थोड़ी सी भी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए और आराम से थोड़ा-थोड़ा मुंह खोल कर ही खाना खाना चाहिए।

नियमित रूप से एक्सरसाइज करें
अगर आप फिजिकल रूप से काफी कम एक्टिव रहते हैं तो इस इनैक्टिविटी की वजह से भी आपके पेट में गैस इकठ्ठी होना शुरू हो सकती है, जिससे पादना और भी ज्यादा आम बात हो जाती है। इसलिए गैस क्लियर करने के लिए रोजाना कुछ समय के लिए आसान या मीडियम लेवल की एक्सरसाइज़ कर सकते हैं।

धूम्रपान बंद कर दें
जब भी आप सिगरेट पीते हैं तो उसके साथ ही आप काफी सारी हवा भी अपने अंदर ले जाते हैं। इस हवा के कारण आपको पेट में गैस बनने लगती है और गैस से निजात पाने के लिए ही फार्ट आते हैं। इसलिए अगर आप ज्यादा फार्टिंग से बचना चाहते हैं तो तंबाखू की चीजों का सेवन करना बंद कर दें।

कब्ज को ठीक करें
गैस होना या पेट फूलना कई बार कब्ज के लक्षण भी होते हैं। अगर आपको भी कब्ज के कारण ही पादने की समस्या हो रही है तो आपको पहले कब्ज ठीक करना चाहिए। इसके लिए आप अपनी डाइट पर ध्यान दे सकते हैं और फाइबर से भरपूर खाना खाएं।

एलर्जी वाली चीजों रहें दूर
हो सकता है कुछ चीजें आपके शरीर में न पच पा रही हों या फिर आपको कुछ चीजों से एलर्जी हो। इसलिए आपको उन चीजों का पता होना चाहिए जिससे आप उनको अवॉयड कर सकें। सबसे पहले आप को अपनी डाइट से गैस पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों को हटा देना चाहिए। ऐसा करने से पाद मारना कंट्रोल होने में काफी मदद मिल सकती है।

च्यूइंगम न खाएं
बहुत सारी शुगर मुक्त गम में मुख्य इंग्रेडिएंट हेक्सिटोल है। अगर इस इंग्रीडिएंट का सेवन थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भी किया जाता है तो गैस और ब्लोटिंग की समस्या देखने को मिल सकती है। इसलिए अगर आप भी काफी ज्यादा चुइंगम का प्रयोग करते हैं तो यह पाद आने का कारण हो सकता है और इसे बंद कर दें।

प्रो बायोटिक्स और एंजाइम सप्लीमेंट्स का सेवन करें
प्रो बायोटिक्स अच्छे बैक्टीरिया हैं जो पेट और पाचन के स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद करते हैं और गैस जैसी समस्या से निजात दिलाने में भी लाभदायक होते हैं। एंजाइम सप्लीमेंट्स का सेवन करने से भी आपके गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल लक्षणों से निजात पाई जा सकती है। इसलिए अगर आप को पेट खराब या फिर गैस आदि की समस्या महसूस हो तो आपको इन जैसे सप्लीमेंट्स का सेवन जरूर करना चाहिए।

अगर आपको ज्यादा मात्रा में पादने की समस्या है तो आपको उन्हें नियंत्रित करने के लिए कदम उठाने होंगे। ऐसा करने के लिए आप आज की टिप्स का पालन कर सकते हैं। साथ ही आपको कुछ चीजों का सेवन करने से बचना चाहिए जैसे प्याज, लहसुन, पत्ता गोभी, ब्रोकली, आलू, कॉर्न, डेयरी के उत्पाद आदि। यह सब चीजें गैस बनाती हैं।