RAJNANDGAON | अवैध संबंध, प्लानिंग और फिर हत्या, पुलिस ने सुलझा ली अवैध संबंधों की गुत्थी

राजनांदगांव: पुलिस ने ‘अंधे कत्ल’ की गुत्थी सुलझा ली है. तीन दिन पहले युवक को गोली मारकर शिवनाथ नदी में फेंक देने के मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. अरेस्ट किए गए आरोपियों में एक नाबालिग है. इस निर्मम हत्या की वजह आरोपी के भाई के साथ मृतक की माता का अवैध संबंध होना बताया जा रहा है. आरोपियों के कब्जे से पिस्तौल और वाहन बरामद कर लिया गया है. आरोपियों मंगलवार को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया गया है और पुलिस की जांच जारी है.

बता दें कि शहर के तुलसीपुर बख्तावर चाल में रहने वाले युवक आदित्य सौदागर की बीते दिनों गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इसके बाद स्कूटी से शव को ले जाकर मोहारा में फेंक दिया गया था. हत्या के आरोप में पुलिस ने रमेश साहू उर्फ पिंटू खपट्टा उम्र 30, जावेद खान उम्र 20 और युवराज उम्र 18 सहित एक नाबालिग को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक रमेश साहू के छोटे भाई का मृतक आदित्य सौदागर की माता के साथ नाजायज संबंध थे. इसकी वजह से आए दिन दोनों के बीच जुबानी विवाद होते रहता था. जिस पर मृतक आदित्य सौदागर रमेश साहू के छोटे भाई को मारने की अक्सर धमकी देता था. हत्या के दिन सुबह रमेश साहू ने अपने साथियों के साथ आदित्य सौदागर को मारने का प्लान बनाया और प्लानिंग के तहत उसकी गोली मारकर हत्या करने के बाद शिवनाथ नदी में फेंक दिया.

इस संबंध में एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि- विगत दिनों शिवनाथ नदी के पास एक शव मिला था जिसकी पहचान 19 साल के आदित्य सौदागर के रूप में हुई थी. पोस्टमार्टम के बाद डॉक्टर द्वारा दी गई रिपोर्ट में सामने आया कि गोली मारकर हत्या की गई है. इसके बाद बसंतपुर और चिखली चौकी, चीता स्क्वॉयड की टीम लगातार जांच में जुटी हुई थी.

एसपी ने आगे बताया, जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज में सामने आया कि तीन लोग स्कूटी में जा रहे हैं. स्कूटी में बीच में बैठे हुए शख्स का पैर जमीन में लगातार घसीटते हुए जा रहा है. पोस्टमार्टम में भी यही बात सामने आई थी. तफ्तीश के दौरान पता चला कि आरोपी रमेश साहू के छोटे भाई का मृतक आदित्य की मां के साथ नाजायज संबंध थे. अक्सर दोनों के बीच इसको लेकर विवाद होते रहता था.

एसपी ने आगे बताया, आदित्य रमेश को उसके छोटे भाई को मारने की बात कहता था. इस पर रमेश साहू ने अपने साथियों के साथ आदित्य को मारने का प्लान बनाया और 23 सितंबर की रात गोली मारकर उसकी हत्या कर शिवनाथ नदी में लाश फेंक दी. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आरोपियों को गिरफ्तार कर आगे कार्रवाई पुलिस द्वारा की जा रही है.