शराब के नशे में शिक्षक ने स्टूडेंट्स के सामने ही उतार दिए कपड़े, 3 घंटे तक मचाया हंगामा

उदयपुर: राजस्थान की उदयपुर की आदिवासी बाहुल्य कोटड़ा तहसील के एक सरकारी स्कूल में पीटीआई देवीलाल मीणा ने सारे स्टूडेंट्स के सामने शराब के नशे में अपने कपड़े उतार दिए और तीन घंटे तक स्कूल में हंगामा किया। स्कूल प्रिंसिपल आलोक शर्मा व अन्य अध्यापकों ने रोकने की कोशिश की तो शराबी शिक्षक ने उनको दांत से काटा और नाखून भी गढ़ा दिए। स्कूल के स्टाफ ने जब शराबी शिक्षक को समझाते हुए कहा कि आपकी तबीयत ठीक नहीं है, आप घर चले जाइए, तो शिक्षक ने और ज्यादा गाली-गलौज शुरू कर दी। स्कूल में हंगामा होता हुआ देखकर आसपास रहने वाले ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई।

काटने और नाखून गढ़ाने से प्रिंसिपल और अन्य शिक्षक हुए जख्मी
इस हंगामे के बीच देवीलाल ने नाखूनों और दांतों से काटकर प्रिंसिपल आलोक शर्मा, टीचर बाबूलाल खेर और भगवतीलाल को जख्मी कर दिया। इस दौरान पीटीआई बाद में देख लेने की धमकी भी देता रहा। इतना ही नहीं इसके बाद पीटीआई देवीलाल ने एक-एक कर अपने कपड़े उतारना शुरू कर दिया।
 
शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार और जमानत पर रिहा
मांडवा थानाधिकारी उत्तम सिंह ने बताया कि सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पीटीआई देवीलाल को धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया। इसके बाद उसे एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे चेतावनी देकर जमानत पर रिहा कर दिया गया। गांव वालों ने बताया गया है कि पीटीआई पहले भी कई बार शराब पीकर हंगामा कर चुका है। मामले में जिला शिक्षा अधिकारी को शिकायती पत्र भी लिखा गया है। मामला राजस्थान बाल आयोग तक भी पहुंचा है।

शराब के नशे में धुत था, समझाया पर नहीं माना : प्रिंसिपल
प्रिंसिपल आलोक शेखर शर्मा ने बताया कि पीटीआई 12 बजे स्कूल आया। शराब के नशे में धुत था। उसे बहुत समझाया गया, लेकिन वह नहीं माना और स्टाफ के साथ मारपीट करने पर उतारू हो गया। मामले में कार्रवाई के लिए प्रिंसिपल आलोक शर्मा ने उपखंड व जिला शिक्षा अिधकारियों को लिखा है।