JAGDALPUR | सौ साल पुराने वट वृक्ष को काटने के बाद कांग्रेस सरकार का हुआ पुतला दहन, जमकर की गई नारेबाजी

मुख्यमंत्री की चाटुकारिता में कटा,बरगद का पेड़ – नेता प्रतिपक्ष नगर निगम

भाजपा पार्षद दल की अगुवाई में मौन प्रदर्शन,भाजपाईयों ने की FIR करने की माँग, कांग्रेस सरकार का पुतला भी जलाया

जगदलपुर | कोतवाली थाना के सामने पुराने बस स्टैंड के नाम से जाने जाने वाला स्थल डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी शॉपिंग कंपलेक्स के सामने वर्षों पुराने वटवृक्ष को निर्माता से छँटनीग्रस्त दिया गया है। इस वट वृक्ष के हत्या के विरोध में आज भारतीय जनता पार्टी पार्षद दल और भाजपा परिवार के द्वारा इस कटे वृक्ष के नीचे जमीन में बैठकर मौन धरना दिया और वट वृक्ष की दीर्घायु के लिए इसके पुनः संरक्षण के लिए इसके संवर्धन के लिए पूजा की गई एवं भगवान से कामना की गई, यह वटवृक्ष पुनः पुराने मूल स्वरूप में आए ।
आज भाजपाइयों ने मौन प्रदर्शन के बाद कांग्रेस सरकार का पुतला भी दहन किया और कोतवाली में जाकर इस कुकृत्य में शामिल नेता, अधिकारी के खिलाफ़ प्रथम सूचना रिपोर्ट भी दर्ज करने की की माँग की है।

मौन प्रदर्शन में उपस्थित संतोष बाफना  ने कहा की  काम्प्लेक्स की सुंदरता के लिए इस वटवृक्ष को काटना अदूरदर्शिता है । यह वटवृक्ष शहर की पहचान थी विकास के लिए पर्यावरण के साथ छेड़छाड़ करना अपराध की श्रेणी में आता है, और ऐसे अपराध करने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी।
मौन प्रदर्शन के दौरान श्रीनिवास राव मद्दी पूर्व वन विकास निगम अध्यक्ष ने कहा, वटवृक्ष वर्षों पुराना था इस शहर की पहचान थी धरोहर था और इस शारदीय नवरात्रि के पवित्र अवसर पर इसे काटकर हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ किया गया है। इस वट वृक्ष को काटकर न सिर्फ पर्यावरण को नुकसान पहुंचाया शहर की जनता की भावनाओं से भी खिलवाड़ किया है, इससे पूरा शहर आहत है।

   नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे ने कहा बरगद का  वृक्ष राष्ट्रीय वृक्ष भी है ,और सैकड़ों साल पुराने वटवृक्ष को जब 2 साल पहले काटा जा रहा था तब कुछ पर्यावरण प्रेमियों के दवाब में महापौर ने आकर वृक्ष पर रक्षा सूत्र बांधा और इसकी रक्षा का संकल्प लिया था। आज वही रिमोट से चलने वाली महापौर मुख्यमंत्री की चाटुकारिता में अपने ही संकल्प से मुकर कर कुटिल तरीके से वन विभाग के साथ मिलकर वटवृक्ष को धराशाई करने प्रयत्नशील है। महापौर ने रक्षा सूत्र बांधकर शहर में खूब वाहवाही ली थी आज महापौर कहां है ? सब कांग्रेस के नेता मौन क्यों है ?
      संजय पांडे नेता प्रतिपक्ष ने नगर निरीक्षक पुलिस को दिए गए पत्र में प्रथम सूचना रिपोर्ट FIR दर्ज करने को कहा है। इस पत्र में लिखा गया है कि राष्ट्रीय चिन्ह वटवृक्ष को काटना अपने आप में संगेय अपराध है ,इसलिए इसमें जो लोग भी दोषी हैं उनके ख़िलाफ़ शीघ्र FIR दर्ज हो।

धरने के स्थान पे कटे हुए वटवृक्ष की विधि विधान से पूजा सुरेश गुप्ता संग्राम सिंह राणा और राजपाल कसेर ने की।

इस अवसर पर सुरेश गुप्ता ने कहा प्रदेश कांग्रेस की सरकार और निगम में बैठी कांग्रेस की महापौर में कोई अंतर नहीं है भूपेश बघेल और उनके मंत्रिमंडल विधायक ने 36 वादे कर छग  की जनता को बेवकूफ बनाया, इसी तरह ठीक 2 वर्ष पूर्व महापौर सकीरा साहू ने रक्षा सूत्र बांधकर शहर के लोगों को बेवकूफ बनाया, शहर की जनता को लगातार बेवकूफ बनाना भ्रष्टाचार में लिप्त रहना और लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करना यह कांग्रेसियों की पहचान बन गई है जिसे जनता भली-भांति देख रही है।

कांग्रेस सरकार का पुतला दहन कर की गई नारेबाजी


आज कांग्रेस सरकार के विरोध में मौन धरना स्थल के सामने धरना समाप्ति के बाद कांग्रेस सरकार का पुतला दहन भी किया गया और सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ नगर निगम के भ्रष्टाचार जन भावनाओं के विरोध में काम करने के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई।

मौन प्रदर्शन, पुतला दहन में योगेंद्र पांडे, आलोक अवस्थी, दिगंबर राव, दयावती देवांगन, राजपाल कसेर, मोतीराम बघेल, त्रिवेणी रंगारी, ममता पोटाई ,वेद प्रकाश पांडे, रजनीश पाणिग्राही,बृजेश सिंह भदोरिया, राकेश तिवारी, आरेंद्र सिंह आर्य, शशि पाठक, अभय दीक्षित, संतोष त्रिपाठी, कमल पटवा, प्रदीप देवांगन, रोशन झा,अविनाश श्रीवास्तव गणेश काले, प्रकाश झा, योगेश शुक्ला, प्रेम यादव, रवि कश्यप, अभिषेक तिवारी, मनोज पटेल, राजा यादव, रिंकू शर्मा, कृष्ण नारायण नाग, पंकज आचार्य लक्ष्मण झा अमरनाथ झा सूर्य भूषण सिंह, शेखर शर्मा, विकास पात्रो, नीरज उस्तान, आलेख राज तिवारी, अनिमेष सिंह चौहान, सुरेश कश्यप कृष्णा राय दीपक तिवारी बड़ी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता के साथ नगर के गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।