14 साल की उम्र में चाकू की नोक पर किया अगवा, 9 महीने तक किया रेप, भाग न सके इसलिए शराब के साथ दिया ड्रग्स

नई दिल्लीः एक लड़की की दास्तां सामने आयी है। पीड़ित लड़की को 14 साल की उम्र में चाकू की नोक पर अगवा कर लिया गया था। उस वक्त वह अपने घर में सो रही थी। किडनैपर ने उसे चूहों और मकड़ियों से भरे स्टोर में केबल से बांधकर रखा ताकि वह भाग न सके। इसके साथ ही उसे हर दिन ड्रग्स दिया और शराब पिलाकर हर दिन दुष्कर्म किया।

लड़की की किडनैपिंग में पत्नी ने दिया साथ
अमेरिका में रहने वाली लड़की का नाम एलिजाबेथ है। ब्रेन डेविड मिशेल नाम के शख्स ने उसे किडनैप कर लिया था। उसकी पत्नी ने भी किडनैपिंग में डेविड की पत्नी ने उसकी मदद की थी। जून, 2002 में एलिजाबेथ को किडनैप किया गया था, इसके 9 महीने बाद मार्च, 2003 में उसे किडनैपर के चंगुल से छुड़ाया गया।

चाइल्ड सेफ्टी के लिए काम कर रही लड़की
एलिजाबेथ एक सफल वर्किंग वुमन है। इंस्टाग्राम पर उनके ढाई लाख के करीब फॉलोअर्स हैं, जहां वो फैंस को अपनी लाइफ से जुड़े अपडेट देती रहती हैं।

जबरन ड्रग दिया और शराब पिलायी
रिपोर्ट के मुताबिक, डेविड एक साइको था। उसने और भी लड़कियों को अगवा किया हालांकि, बाद में वो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिा और कोर्ट ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई। वहीं उसकी पत्नी को 15 साल की जेल हुई। इस 9 महीने में डेविड ने उस लड़की को हर दिन जबरन ड्रग दिया और शराब भी पिलाई और उसका रेप किया।

मां ने किया काफी सपोर्ट
हाल ही में एक न्यूज चौनल से बात करते हुए एलिजाबेथ ने बताया कि- किडनैपर के चंगुल से छूटने के बाद मुझे लगा था कि अब मैं कभी वैसी नहीं हो पाऊंगी, जो पहले थी। इस पूरी घटना में मेरी कोई गलती नहीं थी, लेकिन बाहर निकलने में मुझे शर्म आती थी, ग्लानि महसूस होती थी। लेकिन मेरी मां ने मुझे हौसला दिया,मेरी मदद की और मुझे मजबूत बनाने में सबसे अहम भूमिका निभाई।

खौफ़नाक घटना से मेंटल हेल्थ प्रभावित
एलिजाबेथ कहती हैं कि इस घटना का असर करीब 8 साल तक असर रहा। हर रोज जबरन ड्रग और शराब दिए जाने के बाद से उनकी शारीरिक हालत बहुत खराब हो गई थी। ऊपर से खौफ़नाक घटना ने उनकी मेंटल हेल्थ को बुरी तरह प्रभावित किया। घटना को याद कर वो काफी सिहर उठती हैं।