MP NEWS | पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बोले -15 साल में लड़की प्रजनन के लायक हो जाती है, तो शादी 21 साल में क्यों?

भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सज्जन सिंह वर्मा ने लड़कियों की शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 करने के विचार का विरोध करते हुए अजीबो-गरीब तर्क दिया है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि जब लड़कियां 15 साल में प्रजनन के लायक हो जाती हैं, तो शादी की उम्र 21 साल करने की क्या जरूरत है। दरअसल, वर्मा का बयान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सोमवार को आए बयान पर कटाक्ष था। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में कहा था कि लड़कियों की शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 साल किया जाना चाहिए।

सज्जन सिंह वर्मा ने बुधवार को भोपाल प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा और डॉक्टरों का हवाला देते हुए बच्चे पैदा करने लायक उम्र 15 बता डाला। उन्होंने कहा, ”शादी की उम्र 18 साल है तो कौन सा बड़ा वैज्ञानिक या डॉक्टर हो गया शिवराज की शादी की उम्र 21 करेगा। डॉक्टरों की रिपोर्ट है यह कि बच्चियां 15 साल की उम्र में प्रजनन के उपयुक्त पाईं जाती हैं, तो 18 साल में परिपक्व हो गई बच्ची, यह माना जाता है वैज्ञानिकों से, उसे रहना चाहिए। 21 साल का लॉजिक आप (पत्रकार) बता दो शिवराज की तरफ से।”

चौहान ने कहा था कि कई बार मुझे लगता है कि समाज में बहस होनी चाहिए कि बेटियों की शादी की उम्र 18 रहनी चाहिए या इसे बढ़ाकर 21 साल कर देना चाहिए। मैं इसे बहस का विषय बनाना चाहता हूं। प्रदेश सोचे, देश सोचे, ताकि इस पर फैसला किया जा सके। इस पर वर्मा ने कहा कि पता नहीं मुख्यमंत्री कहां से ऐसे विचार लेकर आते हैं। शिवराज जी क्या डॉक्टर हैं? प्रदेश में बच्चियों के साथ रेप की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। उन्हें शादी की उम्र पर बयान देने के बजाय बच्चियों की सुरक्षा पर ध्यान देना चाहिए।

  • Mats Advt