BIJAPUR | उफनती नदी में नाव में ही हो गया बच्चे का जन्म, रेस्क्यू टीम ने पहुंचाया अस्पताल

बीजापुर: छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के एक गांव में गर्भवती महिला ने नदी किनारे बच्चे को जन्म दिया है। बताया जा रहा है कि, मंगलवार सुबह महिला की जब प्रसव पीड़ा बढ़ी तो परिजन अस्पताल ले जाने के लिए घर से निकले थे, लेकिन नदी में आई बाढ़ रोड़ा बन गई। रेस्क्यू टीम को खबर मिली, तब तक महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया। हालांकि, जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं। जिन्हें रेस्क्यू कर अस्पताल भी पहुंचा दिया गया है।

दरअसल, मामला जिले के गंगालूर तहसील के कमकानार गांव का है। इस गांव की रहने वाली गर्भवती महिला की प्रसव पीड़ा बढ़ी। परिजन खाट पर महिला को उफनती बेरुदी नदी तक लेकर पहुंचे थे, लेकिन पार करना भी बड़ी चुनौती थी। गांव की मितानिन ने मेडिकल टीम को इसकी जानकारी दी। फिर CMHO व BMO ने नगर सेना और SDRF की टीम को रेस्क्यू करने कहा। हालांकि, तब तक काफी समय हो चुका था।

महिला की प्रसव पीड़ा बढ़ती ही जा रही थी। कुछ देर बाद बच्चे ने जन्म ले लिया। फिर जब रेस्क्यू टीम पहुंची तो उनके साथ मेडिकल स्टाफ भी पहुंचे। जिन्होंने जच्चा-बच्चा दोनों की जांच की। जिसके बाद रेस्क्यू टीम ने उफनती नदी पार करवाई। महिला और नवजात को नदी पार के रेड्डी गांव के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

दरअसल, नदी किनारे गर्भवती के प्रसव का यह पहला मामला नहीं है। लगभग महीने भर पहले इसी बेरुदी नदी के किनारे एक गर्भवती नहीं बच्चे को जन्म दिया था। हालात उस समय भी जस के तस थे। रेस्क्यू टीम ने जच्चा-बच्चा दोनों को सुरक्षित नदी पार करवाया था। जिसके बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इस मानसून बीजापुर में तीसरी बार बाढ़ का प्रकोप लोग झेल रहे हैं।