12 करोड़ है राज्य की आबादी, रेप जैसी घटनाएं होती रहती हैं, इस पूर्व मुख्यंत्री ने दिया विवादित बयान

पटनाः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक शर्मनाक बयान दिया है। हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष ने वैशाली में कहा कि बिहार एक बड़ा राज्य है. रेप जैसी घटनाएं होती रहती हैं। सवाल यह है कि घटना के बाद पुलिस-प्रशासन क्या एक्शन लेता है। दो दिन पहले वैशाली जिले के जंदाह में गैंगरेप का मामला सामने आया था। दरिंदों ने घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था। वीडियो वायरल होने के बाद से इलाके में तनाव का माहौल है। फिलहाल मांझी के इस बयान पर बवाल होना तय है।

मांझी ने आगे कहा, जहां तक पुलिस की बात है तो उन्होंने एक्शन लिया है। जल्द ही आरोपी पकड़े जाएंगे. नीतीश कुमार सरकार को बदनाम करने के लिए यह विपक्ष की चाल भी हो सकती है। जब विपक्ष के आरोपों को लेकर मांझी से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कहा, श्बोलने को कुछ भी बोला जा सकता है।

बिहार में कोई एक-दो करोड़ लोग नहीं रहते हैं। बिहार की आबादी 12 करोड़ है. रेप जैसी घटनाएं यहां होती रहती हैं। ऐसी स्थिति में देखना यह चाहिए कि घटना पर सरकार ने क्या एक्शन लिया है। आपने देखा होगा कि सरकार ने आरोपियों को पकड़ने के लिए तुरंत एक्शन लिया और रेड कराई। यह विपक्ष की सरकार को बदनाम करने की चाल भी हो सकती है। वैशाली में नाबालिग के साथ गैंगरेप की घटना के बाद बीजेपी नीतीश कुमार सरकार पर हमलावर है। बीजेपी ने इसे जंगलराज और गुंडाराज बताया है।

13 साल की नाबालिग के साथ 5 दरिंदों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था। चार दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। ये पहली बार नहीं है, जब जीतन राम मांझी ने कोई विवादित बयान दिया हो। पहले भी वो अपने विवादित बयानों के कारण सुर्खियों में रह चुके हैं। उन्होंने कहा था कि वह भगवान राम को नहीं मानते हैं। उन्होंने अपने आप को माता शबरी का वंशज बताते हुए भगवान राम को काल्पनिक पात्र बताया था। उन्होंने यह भी कहा था कि वह वाल्मीकिको मानते हैं लेकिन तुलसीदास को नहीं।