MAHASAMUND | बीजेपी पूर्व पार्षद का बेटा बनेगा सेना में लेफ्टिनेंट, कलेक्टर ने हाथ जोड़कर किया स्वागत

महासमुंदः देश सेवा के लिए एक बार फिर महासमुंद के लाल ने छत्तीसगढ़ का मान बढ़ाया है। महासमुंद जिलेवासियों का सर फक्र से ऊपर कर दिया है। महासमुंद के लाल तेजस्वी सिंह ठाकुर का, भारतीय थल सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर चयन हुआ है। यूपीएससी सीडीएसई (कंबाइन डिफेंस सर्विसेज परीक्षा) के लिए नवंबर 2020 में, एयर फोर्स एकेडमी, इंडियन मिलिट्री एकेडमी, इंडियन नेवल एकेडमी और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में करीब 350 पदों पर भर्ती निकली थी। इसकी परीक्षा फरवरी 2021 में आयोजित की गई, इस परीक्षा में देशभर के करीब साढ़े 4 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी।

इस परीक्षा में आठ हजार परीक्षार्थियों ने रिटर्न पास किया। रिटर्न परीक्षा के बाद दो चरणों में इंटरव्यू और मेडिकल टेस्ट परीक्षा हुई, जिसमें ऑफिसर ट्रेनिंग एकेडमी में 113 लोगों का चयन किया गया। इसमें छत्तीसगढ़ से अकेले महासमुंद के होनहार युवा तेजस्वी सिंह ठाकुर का चयन हुआ है। तेजस्वी अब चेन्नई में 11 माह की ट्रेनिंग पूरा करने के बाद लेफ्टिनेंट के पद पर देश सेवा करेंगे। तेजस्वी के चयन पर उसके परिवार में खुशी का माहौल है। उनके माता-पिता खुद को गौरवान्वित मान रहे हैं।

तेजस्वी के पिता विक्रम ठाकुर का महासमुंद में ही दरवाजा, चौखट बेचने का व्यावसाय है। बीजेपी की टिकट पर महासमुंद नगर पालिका के पूर्व पार्षद रह चुके हैं। विक्रम कहते हैं कि बचपन से ही उनका बेटा मेधावी छात्र रहा है। हाई स्कूल, हायर सेकेंडरी स्कूल की परीक्षा में भी अच्छे अंक अर्जित किए। शुरू से ही उनका लगन इंडियन आर्मी की प्रति रहा, जिसे वह पूरा कर दिखाया। तेजस्वी का कहना है कि देश प्रेम की भावना केवल इंडियन आर्मी के सैनिक के भीतर नहीं, बल्कि देश के हर नागरिक के भीतर होना जरूरी है। बता दें कि तेजस्वी के भारतीय सेना में चयन पर महासमुंद कलेक्टर निलेश कुमार क्षीरसागर ने शुभकामनाएं दीं। हाथ जोड़कर तेजस्वी का स्वागत किया।

ये भी पढ़ें :-   RAIPUR | रायगढ़ में भी खुलेगा संगीत एवं नृत्य महाविद्यालय, 127 आयोजनों के लिए 4 करोड़ 93 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान