RAIPUR | कांग्रेस में कट सकती है 46 विधायकों की टिकट, 11 मंत्री भी शामिल, चिंतन शिविर से निकला है फार्मूला

रायपुरः राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस का तीन दिवसीय चिंतन शिविर आयोजित किया गया। चिंतन शिविर में कांग्रेस ने देशभर में युवाओं को पार्टी से जोड़ने के लिए सत्ता और संगठन में 50 साल से कम उम्र के लोगों को टिकट और प्रतिनधित्व देने का फार्मूला दिया है। छत्तीसगढ़ के नेताओं ने इस निर्णय की तारीफ की है। सत्ता और संगठन में 50 साल से कम उम्र के लोगों को तवोज्जो देने के नव संकल्प शिविर में किए गए फैसले पर छत्तीसगढ़ में भी राजनीतिक हलचल शुरू हो गई है।

छत्तीसगढ़ के परिपेक्ष्य में देखें तो वर्तमान में कांग्रेस के 71 विधायक हैं। इनमें से लगभग 46 विधायकों की उम्र 50 के पार हो चुकी है। निर्णय के मुताबिक 50 फीसदी टिकट 50 से कम उम्र के दावेदारों को दिया जाना है। निर्णय कब लागू होगा यह देखने वाली बात होगी। वहीं यदि ऐसा होता है तो इसमें किसकी टिकट कटेगी और किसे मिलेगी यह बड़ा सवाल है। दिलचस्प बात यह है कि छत्तीसगढ़ के 46 विधायक इस फार्मूले की जद में आ रहे हैं। इनमें 11 मंत्री भी शामिल हैं। कांग्रेस यह फॉर्मूला लागू करती है तो बहुत से बदलाव आने वाले समय में या अगले विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस में दिखाई दे सकते हैं।

सत्ता की तरह ही छत्तीसगढ़ कांग्रेस संगठन के कई बड़े पदाधिकारियों की उम्र भी पचास के पार हो गई है। राज्य के मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रविन्द्र चौबे का कहना है कि यह अच्छा फैसला है। आने वाले समय में ना केवल संगठन के पदों पर बल्कि चुनावी मैदान में भी 50 साल से कम उम्र के लोगों का प्रतिशत बढ़ा हुआ दिखाई देगा। नौजवानों को पार्टी की ओर आकर्षित करने का सबसे अहम और बड़ा फैसला है। युवा विधायक व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव विकास उपाध्याय का कहना है कि इस फैसले से बड़ी संख्या में युवाओं को सत्ता और संगठन में आने का मौका मिलेगा।

ये भी पढ़ें :-   KORBA | इंजीनियरिंग छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली, मां कमरे में गई तो पंखे से लटका मिला शव, सुसाइड नोट में लिखा....