JAGDALPUR | सरकार की गंभीर लापरवाही से मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं ग्रामीण, कोंटा में 65 मौतों से भी नही जागा प्रशासन – केदार

जगदलपुर: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने सुकमा जिले के कोंटा विकासखंड के रेगड़गट्टा में हुई 65 मौतों के लिए राज्य सरकार को दोषी ठहराते हुए , कहा है कि राज्य सरकार के गैर जिम्मेदाराना रवैये की वजह से ग्रामीणों की मौत हुई है । कश्यप ने कहा कि सुकमा में शासन प्रशासन पूरी तरह फेल हो चुका है , लापरवाही का आलम ये है कि अनीमिया जैसी बीमारी का इलाज भी नही हो पा रहा है । राज्य सरकार के तमाम दावों के बावजूद ये बात स्पष्ट हो चुकी है कि रेगड़गट्टा सहित अन्य ग्रामों में ग्रामीण मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं ।

कश्यप ने कहा कि रेगड़गट्टा में हुई मौतों पर प्रशासन सच्चाई छुपा रहा है , स्थानीय परिस्थितियों को देखते हुए कहा जा सकता है कि पूरा प्रशासन मामले की लीपापोती में लगा हुआ है । एक साथ 65 मौतों से पूरे सुकमा।जिले के हाहाकार मचा हुआ है और पूरा सिस्टम लकवाग्रस्त हो चुका है ।

 कश्यप ने कहा कि आदिवासियों के दम से सरकार बनाने वाली पार्टी ने सुकमा के रेगड़गट्टा में आदिवासियों का सामूहिक नरसंहार किया है ,और तथ्यों को छुपाने के लिए उल्टे सीधे स्वांग रचे जा रहे हैं । ये पूरा मामला जांच का है , सरकार सिलगेर मामलों की स्वतंत्र एजेंसी से इस मामले की जांच करवाकर जिम्मेदार अधिकारियों के ऊपर कठोर से कठोर कार्यवाही करे एवम् काग्रेस सरकार की लापरवाही से आदिवासियो की मौत की जिम्मेदार है।