मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का उत्तर प्रदेश ट्रांसफर, लालजी टंडन बिहार से मध्य प्रदेश भेजे गए

भोपाल:

मध्य प्रदेश की राज्यपाल और गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल अब उत्तर प्रदेश की राज्यपाल होंगी। वह निवर्तमान राज्यपाल राम नाईक का स्थान लेंगी जिनका कार्यकाल खत्म हो रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनके नाम के अलावा छह और राज्यपालों के नाम को मंजूरी प्रदान की है। आनंदीबेन पटेल मध्य प्रदेश की दूसरी और कुल 27वीं महिला गवर्नर रहीं।

अगस्त 2018 में लालजी टंडन ने बिहार के राज्यपाल की शपथ ली थी। पार्षद से से सांसद बनने तक के उनके सफर में दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का बड़ा योगदान रहा है। लालजी टंडन लखनऊ लोकसभा सीट से सांसद भी रह चुके हैं। 

जानें मध्य प्रदेश के नए राज्यपाल के बारे में
  • लालजी टंडन का जन्म 12 अप्रैल 1935 में हुआ है। वह भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ नेता हैं।
  • पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के 2009 में राजनीति से संन्यास लेने के बाद वो लखनऊ से 2009 में लोकसभा सांसद चुने गए थे।
  • उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन राज्य में बीजेपी सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं।
  • इनका राजनीतिक सफर साल 1960 में शुरू हुआ। टंडन दो बार पार्षद चुने गए और दो बार विधान परिषद के सदस्य रहे।
  • मायावती और कल्याण सिंह की कैबिनेट में वह नगर विकास मंत्री रहे। कुछ दिनों तक वह प्रतिपक्ष के नेता भी रहे।
  • लालजी टंडन ने इंदिरा गांधी की सरकार के खिलाफ जारी जेपी आंदोलन में भी बढ़-चढकर हिस्सा लिया था।
  • मूल रूप से उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन प्रदेश की भाजपा सरकारों में मंत्री भी रहे हैं।