ग्रामीणों ने बनाया पुलिस और वन विभाग के कर्मचारियों को बंधक, अतिक्रमण हटाने पहुंचा था सरकारी अमला

गरियाबंद। वन मंडल के अंतर्गत छैला चिखली के जंगलों के कंपार्टमेंट 1288 में किए गए अवैध कब्जों के बाद ग्रामीणों के लिखित आश्वासन के बाद वन विभाग ने वहां वृक्षारोपण की तैयारियां प्रारंभ की थी। इसी दौरान सुखलाल कमार ने वहां अपनी मिल्कियत होने का दावा करते हुए एक बोर्ड लगा दिया था जिसमें इस क्षेत्र में घुसना प्रतिबंधित होने की बात लिखी थी इसी दौरान जब आज वन विभाग पुलिस विभाग को लेकर छैला चिखली के जंगलों कंपार्टमेंट 1288 मे पहुंची तो सुखलाल का परिवार एवं लगभग 40 से 50 महिलाएं वहां पहुंचकर वन एवं पुलिसकर्मियों को घेर लिया तथा उनके विरुद्ध जमकर नारेबाजी करने लगे और उन्हें बंधक बना लिया।


इसी दौरान वन विभाग के बोलेरो पर वाहन पर डंडे और पत्थरों से वार किया गया जिससे वाहन क्षतिग्रस्त हो गया जिसके बाद घटना की सूचना वन विभाग ने उच्चाधिकारियों को दी तथा अमलीपदर थाने में भी सूचना दी जिसके बाद वहां अतरिक्त फ़ोर्स पहुंचकर वन एवं पुलिस कर्मियों को घेर लिया तथा उनके विरुद्ध जमकर नारेबाजी करने वालो से किसी तरह छुड़ाकर अमलीपदर थाना लाए हैं जहां वन अधिकारी एवं कर्मचारियों की रिपोर्ट पर शासकीय कार्य में बाधा डालने साक्षी संपत्ति को नुकसान पहुंचाना शासकीय व्यक्तियों के कार्य की अवधि में इन पर आक्रमण करना इनके कार्यों में व्यवधान डालना के साथ ही इनसे मारपीट किए जाने की अपराध के संबंध में एफआइआर की तैयारी की जा रही है इस अवसर पर यह भी पता चला है कि 1 कर्मचारी क्षेत्रपाल मोहन के हाथ में ज्यादा चोट आई है। वहीं अहित लाल नामक चौकीदार के भी चोट आई है इस संबंध में अमलीपदर थाना में एफ आई आर की तैयारी की जा रही है।

इस संबंध में पुलिस अधिकारी सुखनंदन सिंह राठौर से चर्चा करने पर वे कहते हैं कि वन विभाग की ओर से खबर आई थी कि अमलीपदर के समीप छैला चिखली में कक्ष क्रमांक 1288 प्लांटेशन मे कुछ लोगों के द्वारा उनके कार्यों में बाधा डाला गया है और उन्हें रोका गया है साथ ही शासकीय वाहन में तोड़फोड़ किया जा रहा है जिसकी जानकारी के बाद पुलिस फोर्स वहां भेजी गई है और उन्हें सकुशल लाकर अमलीपदर थाना में एफआईआर की तैयारी की जा रही है।


वही गरियाबंद सामान्य वन मंडल के डीएफओ मयंक अग्रवाल से चर्चा करने पर उन्होंने कहा कि विभागीय कर्मियों की ओर से खबर आई थी कि छैला चिखली में प्लांटेशन के वक्त कुछ लोगों के द्वारा उनके कार्यों में बाधा डाला गया है और उन्हें रोका गया है साथ ही वाहन ने तोड़फोड़ किया जा रहे हैं इसकी जानकारी के बाद पुलिस फोर्स वहां भेजी गई है और उन्हें सकुशल लाकर अमलीपदर थाना में एफ आई आर की तैयारी की जा रही है।