नान घोटाला | ‘हमने जो आरोप लगाया वो सच निकला’: भूपेश बघेल

रायपुर:

नान घोटाले में खुलासे के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि रमन सिंह के ही स्टाफ शिवशंकर भट्ट थे. जब वो केंद्रीय मंत्री रहे, तब नान में लगातार संरक्षण मिलता रहा और उन्हीं के आदमी के द्वारा 164 का बयान दिया गया है, तो यह षड्यंत्र कैसे हुआ. जो मिली भगत थी वो उजागर हुआ है. हम लोग यही आरोप लगाते रहे हैं. पिछले दस साल में 36 हजार करोड़ का घोटाला किया गया. शिवशंकर भट्ट के बयान और हलफ़नामा से स्पष्ट होता है कि हमारे द्वारा लगाए गए आरोप बिलकुल सही थे. रमन सिंह जो चाउर वाले बाबा बन के पूरे देश भर में घूमते थे, अब साबित हो गया है कि वो चाऊर वाले बाबा है या और कुछ थे. सीएम भूपेश ने यह बयान दिल्ली से लौटने के बाद एय़रपोर्ट पर दिया है.

रायपुर एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद मीडिया से बातचीत में भूपेश बघेल ने कहा कि रमन सिंह कहते हैं अपराधी के बयान पर अपराध दर्ज किया जाए, रमन सिंह क्या उस समय सोए थे. जब पी चिदंबरम के ख़िलाफ़ अपराध पंजीबद्ध हुआ. आज वो जेल में हैं बेल भी नहीं मिली. एक अपराधी के बयान पर कार्रवाई हुई, तब रमन सिंह को क्यों ध्यान में नहीं आया. भूपेश ने कहा कि यह विभागीय प्रशासन का काम है वो किस तरह से कार्रवाई करती है.