बजट सत्र शुरू होते ही किसानों के खातों में डाली जाएगी राशि, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने की घोषणा

फारूक मेमन

गरियाबंद : राजिम माघी पुन्नी मेला में धर्म अध्यात्म और संस्कृति के संगम के साथ ही विभिन्न सम्मेलनों का आयोजन किया जा रहा है। आज मेले के दूसरे दिन विशाल किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में प्रदेश के कृषि मंत्री रवीन्द्र चौबे बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए उन्होंने राजिम पुन्नी मेला के बदले हुए स्वरूप पर खुशी जताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप जिला प्रशसन ने बेहतर कार्य किया है।

उन्होंने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार किसानों के साथ हमेशा खड़ी है। किसानों के हित के लिए पैसे की कोई कमी नहीं होगी। उन्होंने बताया की समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, किसानों का कर्ज माफ और अन्य जन कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से 37 हजार करोड़ रूपये किसानों के हित में खर्च किये है। कृषि मंत्री ने बताया की आने वाले बजट सत्र के आरंभ होते ही समर्थन मूल्य की अंतर की राशि 685 रूपये प्रति क्विंटल किसानों के खातों में डाले जायेंगे।

उन्होंने कहा कि किसानों के लिए 20 फरवरी तक धान खरीदी को बढ़ा दिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि इंद्रावती, पैरी, अरपा, हसदेव, आदि नदियों के पानी को किसानों के खेतों तक पहुंचाया जायेगा। इसके लिए सरकार योजना लागू कर रही है। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देशित करते हुए कहा कि कृषि विभाग द्वारा दिया गया कृषि सामग्री सभी पात्र किसानों में वितरण सुनिष्चित होना चाहिए। उन्होंने बताया की आने वाले समय में महात्मा गांधी के नाम से उद्यानिकी विश्वविद्यालय खोला जायेगा।