MGM हॉस्पिटल की मान्यता रद्द, सभी अनुदान पर भी रोक, स्वास्थ्य संचालक का सभी सीएमएचओ को पत्र

रायपुर :

स्वास्थ्य विभाग ने एक बड़ा फैसला लेते हुए एमजीएम हॉस्पिटल रायपुर की मान्यता रद्द कर दी है। साथ ही इस अस्पताल को विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत मिलने वाले अनुदान भी बंद करने के निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य संचालक द्वारा यह जानकारी देते हुए प्रदेश के सभी सीएमएचओ को पत्र जारी किया गया है।

निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता के करीबी और परिवार वालों द्वारा संचालित एमजीएम अस्पताल के 97 बैंक खातों की लिखित शिकायत स्व. मिक्की मेहता के भाई माणिक मेहता ने जिला प्रशासन से की थी। उन्होंने इससे जुड़े दस्तावेजी साक्ष्य और खातों का ब्यौरा भी उपलब्ध कराया था। इसके बाद जिला प्रशासन ने सभी संबंधित बैंकों को पत्र जारी कर अस्पताल खातों और उसके संचालन करने वालों की सूची मांगी थी।

बताया जाता है कि इस खाते का उपयोग काले धन को सफेद करने के लिए किया जाता था। भ्रष्ट अफसर के खिलाफ साक्ष्य मिलने के बाद उसे ट्रस्ट में दान देने के लिए दबाव डलवाया जाता था। वहीं इसकी आड़ में ट्रस्ट में दिए गए रकम से आयकर विभाग से छूट ली जाती थी। सूत्रों के मुताबिक ईओडब्ल्यू को प्राथमिक जांच में इसके दस्तावेज मिले हैं। राज्य सरकार को पत्र लिखकर इसकी जांच की अनुमति भी मांगी गई है। हालांकि इसमें से कुछ खातों को बंद करने की जानकारी मिली है।