IPL 2021 | UAE में होंगे बाकी बचे 31 मैच, 15 सिंतबर से 15 अक्टूबर तक हो सकता है मुकाबला, BCCI कर रही है चर्चा

मुंबई: आखिरकार IPL के बचे हुए मैचों के लिए BCCI ने विंडो तलाश ली है। सूत्रों के मुताबिक बचे हुए मैच UAE में 15 सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच कराए जाएंगे। पहले भी बोर्ड इन मैचों के लिए दो ऑप्शंस पर विचार कर रहा था। इनमें इंग्लैंड और UAE शामिल थे।

सूत्रों के हवाले से बताया कि UAE में पहले भी IPL कराया जा चुका है और ऐसे में यहीं टूर्नामेंट के मौजूदा सीजन को पूरा करवाने का फैसला किया गया है। IPL 2021 सीजन को 29 मैच के बाद ही कोरोना की वजह से टालना पड़ा। 60 में से 31 मैच होने अभी बाकी हैं।

29 मई को बोर्ड कर सकता है तारीखों और जगह का ऐलान
सूत्रों के हवाले से बताया कि UAE में पहले भी IPL कराया जा चुका है और ऐसे में यहीं टूर्नामेंट के मौजूदा सीजन को पूरा करवाने का फैसला किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, BCCI 29 मई को IPL के नए वेन्यू और तारीखों का ऐलान कर सकता है। इस दिन बोर्ड की स्पेशल जनरल मीटिंग होनी है।

सूत्रों के मुताबिक इंग्लैंड और भारत के बीच UK में 4 अगस्त से 5 टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होगी। दूसरे और तीसरे टेस्ट के बीच 9 दिन का गैप है। अगर इस गैप को कम करके 4 दिन तक ले आया जाता है, तो बोर्ड को IPL के मैच करवाने के लिए ज्यादा दिन मिल सकेंगे। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से BCCI की इस पर चर्चा अभी चल रही है।

BCCI के CEO हेमांग अमीन की पहली पसंद UAE
BCCI के अंतरिम CEO हेमांग अमीन 29 मई को BCCI की होने वाली स्पेशल बैठक में IPL के बचे हुए मैच UAE और इंग्लैंड में कराए जाने का प्रस्ताव रखेंगे। उनकी पहली पसंद UAE ही है।

अमीन इन 3 वजहों से UAE के पक्ष में बताए जाते हैं:

पहली कम खर्च: IPL को UAE में कराने की पहली वजह ये है कि इंग्लैंड की तुलना में UAE में IPL कराने का खर्च कम पड़ेगा। इंग्लैंड में होटल, स्टेडियम आदि का खर्च UAE की तुलना में ज्यादा है। UAE में टीमें सड़क मार्ग से आसानी से स्टेडियम तक पहुंच सकती हैं। इंग्लैंड में ट्रैवल का खर्च बढ़ जाएगा। ज्यादा ट्रैवल से कोरोना के संक्रमण का खतरा भी ज्यादा रहेगा।

दूसरी मौसम: यूके में IPL के बचे हुए मैच नहीं कराने की दूसरी वजह सितंबर में इंग्लैंड का अनिश्चित मौसम भी है। वहां बारिश के कारण कई मैच रद्द करने पड़ सकते हैं। जबकि UAE में सितंबर में ठंड का मौसम रहेगा। जो खिलाड़ियों और स्टाफ के लिए बेहतर रहेगा।

तीसरी UAE में आयोजन का अनुभव: IPLके शेष मैचों के लिए UAE के पहली पसंद होने की तीसरी वजह वहां पर टूर्नामेंट कराने का पहले का अनुभव है। IPLका पिछला सीजन UAE में ही कराया गया था। ऐसे में वहां पर आने वाली चुनौतियों के बारे में जानकारी है। जबकि इंग्लैंड में अब तक कभी भी IPLके मैच नहीं हुए हैं।

ऐसे में वहां की चुनौतियों के बारे में पता नहीं है। वहीं कोरोना की वजह से अलग- अलग शहरों के प्रोटोकॉल और वहां लगे प्रतिबंधों की जानकारी नहीं है। जबकि UAE में कोरोना के बीच IPLहोने की वजह से प्रोटोकॉल और तीनों शहरों में लगाए गए प्रतिबंध की जानकारी है। ऐसे में यहां पर मैनेज करने में ज्यादा दिक्कत नहीं आएगी।

कब-कब UAE में हुआ IPL?
अगर IPL के बाकी मैच UAE में हुए, तो यह तीसरी बार होगा, जब अरब दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट लीग को होस्ट करेगा। इससे पहले 2014 में भारत में लोक सभा चुनावों के दौरान लीग के पहले 20 मैच होस्ट किए थे। वहीं, कोरोना की वजह से 2020 सीजन UAE में ही कराया गया।

पिछले सीजन में दुबई, अबू धाबी और शारजाह समेत 3 स्टेडियम में 60 मैच कराए गए थे। इससे UAE को अच्छा रेवेन्यू भी जनरेट हुआ था। BCCI ने पिछले साल अरब क्रिकेट बोर्ड को IPL की मेजबानी के बदले 98.5 करोड़ रुपए भी दिए थे। ऐसे में 31 मैच की मेजबानी उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं है।

अगले महीने PSL भी होस्ट करेगा UAE
पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) का छठा सीजन 20 फरवरी से शुरू हुआ था। पर 6 खिलाड़ियों समेत एक सपोर्ट स्टाफ के कोरोना संक्रमित होने के बाद इसे 4 मार्च को रोक दिया गया था। तब लीग में सिर्फ 14 मैच ही हुए थे। पाकिस्तान की तैयारी थी कि बाकी के मैच 1 जून से पाकिस्तान में कराए जाएं, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर की वजह से इसे भी टाल दिया गया। अब बाकी बचे हुए 20 मैच 5 जून से UAE में खेले जाएंगे।

PCB और संयुक्त अरब अमीरात क्रिकेट बोर्ड के बीच करार भी हुआ है। PSL की टीम कराची किंग्स के मालिक सलमान इकबाल ने बताया कि सभी खिलाड़ियों, स्टाफ, अधिकारियों और ब्रॉडकास्ट के अधिकारियों को अबू धाबी में 10 दिन तक क्वारैंटाइन रहना पड़ेगा। इस दौरान नियमित रूप से खिलाड़ियों सहित सभी लोगों की कोरोना की जांच होगी।

कोरोना की वजह से IPL 2021 को बीच सेशन में रोका गया
वहीं, IPL 2021 के मिड सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद के ऋद्धिमान साहा, दिल्ली कैपिटल्स के अमित मिश्रा, KKR के संदीप वॉरियर और वरुण चक्रवर्ती, CSK के बॉलिंग कोच एल बालाजी और बैटिंग कोच माइकल हसी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद BCCI और IPL प्रशासन के पास लीग को बीच सेशन में रोकने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा था।

टूर्नामेंट रद्द होने पर होगा 2500 करोड़ रु. का नुकसान
BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने 15 दिन पहले टेलीग्राफ को दिए इंटरव्यू में कहा था कि वे टूर्नामेंट को लेकर जल्दबाजी नहीं कर रहे। धीरे-धीरे इस पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि IPL इस साल नहीं कराया जा सका, तो BCCI को इससे 2500 करोड़ रुपए तक का नुकसान होगा।