भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य एवं साधु-संतो के सानिध्य में होगा उद्घाटन, त्रिवेणी संगम के पावन तट पर आज से राजिम माघी पुन्नी मेला

फारुक मेमन

गरियाबंद: आस्था, अध्यात्म एवं संस्कृति का त्रिवेणी संगम राजिम में मांघ पूर्णिमा 9 फरवरी से पुन्नी मेला आरंभ  होने जा रहा है। मांघ पूर्णिमा 9 फरवरी से महाशिवरात्रि 21 फरवरी तक आयोजित किया जायेगा ।

इस मेला का उद्घाटन समारोह संध्या 7 बजे मुख्य मंच राजिम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य और प्रदेश के , गृह, जेल , लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू की अध्यक्षता में सम्पन्न होगा। समारोह में साधु-संतो के पावन सानिध्य में समारोह का आगाज होगा। शुभारंभ समारोह में आचार्य महामंडलेश्वर अग्निपीठाधीश्वर बम्हाऋषि श्री रामकृष्णानंद जी महाराज, अमरकंटक , महंत श्री रामसुन्दरदास जी महाराज अध्यक्ष श्री राजीव लोचन मंदिर, राजिम, मंहत साध्वी प्रज्ञा भारती जी-संरक्षक वेदरतन सेवा प्रकल्प छ.ग., संत श्री गोवर्धनशरण जी महाराज सिरकट्टी आश्रम, संत श्री विचार साहेब जी, कबीर आश्रम नवापारा, ब्रम्हाकुमारी पुष्पा बहन जी, नवापारा एवं विशिष्ट साधु-संत की गरिमामयी मौजूदगी रहेगी।

इस अवसर पर राज्य केबिनेट के मंत्रीगण टीएस सिंहदेव, रविन्द्र चैबे , डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, मोहम्मद अकबर , डाॅ शिवकुमार डहरिया, श्रीमती अनिला भेंड़िया , जयसिंह अग्रवाल, श्री गुरू रूद्रकुमार, उमेश पटेल, अमरजीत भगत एवं  नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, सांसद रायपुर सुनील सोनी, सांसद महासमुन्द चुन्नीलाल साहू , विधायक बृजमोहन अग्रवाल , धनेन्द्र साहू , अमितेश शुक्ल, अजय चन्द्राकर, डमरूधर पुजारी,डाॅ. श्रीमती लक्ष्मी ध्रुव के विशेष आतिथ्य एवं नगर पालिका परिषद् गोबरा नवापारा के अध्यक्ष धनराज मध्यानी और नगर पंचायत राजिम की अध्यक्ष श्रीमती रेखा राजू सोनकर की गरिमामयी उपस्थिति रहेगी।

राजिम माघी पुन्नी मेला के प्रथम दिवस 9 फरवरी को  प्रातः विशेष पर्व स्नान से पुन्नी मेला का आगाज होगा। इस दिन विशाल पंच-सरपंच सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा। मेले में प्रतिदिन शाम 4 बजे से छत्तीसगढ़ी खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन होगा। शाम 6 बजे महानदी आरती का आयोजन किया जायेगा। वहीं मुख्य मंच मे शाम 5ः30 बजे से छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी होगा। पहले दिन शाम 7 बजे से रात्रि 8 बजे तक सुप्रसिद्ध कलाकार दिलीप षडंगी द्वारा जगराता एवं गंडई के श्री पी.सी.लाल यादव के दूध मोगरा कलामंच द्वारा मनमोहक प्रस्तुति दी जायेगी।