BHILAI | अतंराष्ट्रीय स्तर के ऑन लाईन सट्टा महादेव एप्प के 6 गुर्गे पकड़ाये, आरोपी ने मीडिया के सामने दिखाया सट्टे का डेमो

भिलाई: अतंराष्ट्रीय स्तर के ऑन लाईन सट्टा महादेव एप्प के 6 गुर्गे पकड़ाये करोड़ो रूपये के ऑन-लाईन सट्टे के पैसे के लेन-देन का विभिन्न बैंकों के 50 से अधिक खातों के माध्यम से किया जा रहा था सट्टे के पैसे का लेने-देन खुलासा लगभग दो लाख रूपये कराया गया होल्ड इन आरोपियों से पुलिस ने मोबाईल, लैपटॉप, मॉनीटर, सीपीयू, की-बोर्ड, माऊस, ब्रॉडबैण्ड, लेपटॉप चार्जर, एटीएम कार्ड, चेकबुक, पासबुक बरामद किया गया है दुबई (यू.ए.ई.) एवं भारत के उड़िसा, मध्यप्रदेश, नागपुर, उत्तर प्रदेश में गिरोह के अन्य सदस्य कर रहे है ऑन-लाईन सट्टे का व्यापार ।


आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक दुर्ग डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि दुर्ग जिले में महादेव एप्प, रेड्डी अन्ना एवं अन्य ऑन-लाईन सट्टा एप्प द्वारा चलने की सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) संजय ध्रुव, उप पुलिस अधीक्षक (अपराध) नसर सिद्धीकी को आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए निर्देशित किया गया। जिसके परिपालन में टीम द्वारा महादेव आई.डी. ऐप्प के माध्यम से ऑन लाईन सट्टा का कारोबार करने वाले संदेहियों पर लगातार निगाह रखी जा रही थी.

विशेष सूत्र भी लगाये गये थे इसी दौरान 27 सितंबर को एण्टी क्राईम सायबर युनिट एवं थाना सुपेला की संयुक्त टीम को विशेष सूत्रों से पता चला कि महादेव ऐप के संचालन में संलिप्त सेक्टर 10 निवासी अनुभव जैन एवं उसके अन्य 05 साथी कोसानाला टोल प्लाजा के पास नर्सरी के बीच में स्थित एक झोपड़ी में ऑन-लाईन सट्टे का कारोबार करने हेतु इकट्ठे हुये है जिन्हें टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया।

प्रारंभिक पूछताछ में उक्त व्यक्तियों द्वारा पुलिस को गुमराह करते रहें किन्तु तकनीकी रूप से जानकारी एकत्र कर निरंतर पूछताछ करने पर पकड़े गये अनुभव जैन एवं उसके साथियों के द्वारा बताया गया कि महादेव आई.डी. लेकर ऐप के माध्यम से ऑन लाईन सट्टे का संचालन उनके द्वारा किया जा रहा है। उनके ब्रांच द्वारा वेब साईट के माध्यम से आम लोगों को ऑन लाईन सट्टा खेलने हेतु 500 लोगों को आई.डी. उपलब्ध कराकर छत्तीसगढ़ उड़ीसा में सट्टे का कारोबार संचालित कर रहे है। जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर इनके नेटवर्क को ध्वस्त किया है जो कि छत्तीसगढ़ में पहला मामला है जिसका नेटवर्क खत्म किया गया l

श्री पल्लव ने बताया कि ब्रांच द्वारा ऑन लाईन सट्टा खेलने हेतु देश के विभिन्न राज्यों में बैंक खाता खुलवाया जाकर उक्त कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। जिसमें करोड़ों रूपयों का अवैधानिक लेन-देन किया जा रहा। आरोपी अनुभव जैन ने बताया कि इस कारोबार करने के लिए उसे 6 पर्सेंट कमीशन मिलता है l हर्ष कपूर, नूतन देवांगन, प्रदुमन विश्वकर्मा ,पंकज विश्वकर्मा ,श्यामदेव विश्वकर्मा ने बताया कि 15 से 20 हजार सैलरी में उन्हें रखा गया था ज्यादातर आरोपी एलमुनियम सेक्शन का काम करते हैं पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 12 नग मोबाईल, 4 नग लेपटॉप, 1 नग मॉनीटर, 1 नग सीपीयू, 3 नग की-बोर्ड, 4 नग माऊस, 1 नग ब्रॉडबैण्ड, 4 नग लेपटॉप चार्जर, 6 नग एटीएम कार्ड, 8 नग चेकबुक, 3 नग पासबुक बरामद कर जप्त किया गया जो कि ऑन लाईन सट्टे के कारोबार में उपयोग में लाया जा रहा था।

उन्होंने बताया कि पुलिस पूछताछ में इन आरोपियों ने बहुत से नामों का खुलासा किया है lहिरासत में लिये गये व्यक्तियों पर वैधानिक कार्यवाही थाना सुपेला से की जा रही है।
आरोपी ने मीडिया के सामने दिखाया सट्टे का डेमो, आरोपी अनुभव जैन ने कैसे खिलाते हैं महादेव ऐप से सट्टा मीडिया के सामने ने डेमो दिखाया।
पूजा के नाम से एकाउंट बनया है। उसे टेलीग्राम के जरिए खोला। इसके बाद अन्ना ऑनलाइन खुल गया। इसके बाद मोबाइल के जरिए बैंक खाता से ट्रांसजेक्शन कर ऑनलाइन सट्टा खेलने लगता है। उसने बताया कि महादेव ऐप के मालिक सौरभ चंद्राकर और रवि अन्ना को सोशल मीडिया पर देखा है। आयोजित इस पत्रकार वार्ता के दौरान एडिशनल एसपी संजय ध्रुव, सीएसपी कौशलेंद्र पटेल , सीएसपी नसर सिद्दीकी टी आई संतोष मिश्रा, दुर्गेश शर्मा ,वीरेंद्र श्रीवास्तव मौजूद थे l