SURAJPUR | मदरसा टीचर रोज रात को कमरे में बुलाता था, लौटती तो सिर्फ रोती रहती, फंदे से लटकता मिला शव

सूरजपुर: जिले के भंवराही गांव स्थित एक मदरसे के हॉस्टल में छात्रा का फंदे में लटकता हुआ शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया. परिजन मदरसे के शिक्षक पर दुष्कर्म कर हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं. मृतक के परिजनों का आरोप है कि मदरसे के शिक्षक छात्रा को रोज रात को अपने कमरे में बुलाते थे; बाहर आने पर वह अक्सर रोती हुई नजर आती थी. इस मामले को लेकर भाजपा व कांग्रेस नेताओं ने निष्पक्ष जांच की मांग की है.

बता दें कि जिले के भवराही गांव में पिछले 10 सालों से एक मदरसा संचालित हो रहा है. इसमें मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे कई राज्यों की 160 लड़कियां उर्दू की तालीम हासिल करती हैं. इन्हीं में एक मध्य प्रदेश के सिंगरौली की रहने वाली लड़की नुसरत (बदला हुआ नाम) थी. बताया जा रहा है कि गत रविवार की रात को प्रार्थना के बाद वह अपने कमरे में चली गई और सुबह फांसी पर लटकी उसकी लाश मिली.

परिजनों के मुताबिक, लाश को मदरसा के शिक्षकों ने ही पुलिस के आने से पहले नीचे उतार दिया था. इसके बाद घटना की जानकारी बसदेई पुलिस चौकी को दी गई. सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. सोमवार शाम हो जाने की वजह से सोमवार को शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका. वहीं जानकारी मिलने के बाद मृतिका के परिजन मध्य प्रदेश से देर रात सूरजपुर पहुंचे और उन्होंने मदरसा के दो शिक्षको पर दुष्कर्म कर हत्या का गंभीर आरोप लगाया है.

मृतक के साथ पढ़ रही उसकी सगी छोटी बहन ने बताया कि वहां पर एक शिक्षक रात को मृतक को अक्सर अपने कमरे में बुलाते थे. जब भी छात्रा सुहाना शिक्षक के कमरे से लौटती थी तो काफी देर तक रोती रहती थी. वहीं मृतक के परिजनों का यह भी आरोप है कि नुसरत (बदला हुआ नाम) ने आत्महत्या नहीं की है, बल्कि दुष्कर्म कर हत्या करके उसे फांसी पर लटका दिया गया है.

पोस्टमार्टम के दौरान भाजपा के पदाधिकारियों के द्वारा जमकर हंगामा किया गया और भाजपा जिलाध्यक्ष बाबूलाल गोयल ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया. वहीं, कांग्रेस पदाधिकारी भी मौके पर पहुंचे और निष्पक्ष जांच की मांग की. एसडीओपी प्रकाश सोनी ने मामले के बारे में बताया कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो रही है. संदिग्ध शिक्षकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.