Breaking News: मुम्बई के डोंगरी में इमारत का आधा हिस्सा गिरा, 2 लोगों की मौत, 40 लोगों के दबे होने की आशंका

Mumbai Building Collapse in dongri: मुंबई के डोंगरी इलाके में एक बिल्डिंग का आधा से ज्यादा हिस्सा गिर गया है। यह बिल्डिंग डोंगरी इलाके के निशान पाडा में गिरी है। यह बिल्डिंग अब्दुल रहमान शाह दरगाह के पास है। इसकी चपेट में आने से अब तक 2 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, 5 जख्मी लोगों को बचाया गया, जिसमें एक छोटा बच्चा भी शामिल है। मरने वालों में अब्दुल  सत्तार नाम का शख्श और एक महिला शामिल है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के मुताबिक ये इमारत सौ साल पुरानी थी और जल्द ही इसकी मरम्मत होने वाली थी लेकिन उससे पहले ही ये हादसा हो गया।

बीएमसी और पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुच चुकी है। एनडीआरएफ की टीम भी घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है। बीएमसी के आपदा प्रबंधन सेल के मुताबिक, मुंबई के डोंगरी (dongri) इलाके में केसरबाई बिल्डिंग का हिस्सा गिर गया जिसके नीचे 40 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका है। बीएमसी ने इस घटना के संबंध में एक पत्र जारी कर स्पष्ठ किया है यह बिल्डिंग 100 साल पुरानी थी और इसे गिराया जाना था। इस सबंध में नोटिस भी जारी किया जा चुका था।

बताया जा रहा है कि इमारत गिरने से इसमें रह रहे तमाम लोग नीचे दब गए हैं। इमारत संकरी गली में होने के चलते राहत कार्य में परेशानी आ रही है। मौके पर एनडीआरएफ की टीम बुलाई है। गली में फायर ब्रिग्रेड की गाड़ियां भी नहीं जा पा रही है। राहत कार्य के लिए टीमें पैदल हे घटना स्थल पर पहुंचकर राहत कार्य कर रही हैं। इस इमारत के नीचे दुकानें बनी थीं, जबकि इसकी ऊपरी मंजिलों पर परिवार रह रहे थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि लगभग छह परिवार इस इमारत में रह रहे थे। इमारत का आधा हिस्सा जर्जर था, जिसके गिरने की आशंका पहले से ही थी लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

दमकल विभाग, मुंबई पुलिस और निकाय अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं लेकिन संकरी सड़कों के कारण राहत एवं बचाव कार्य में दिक्कतें आ रही हैं। बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी बचाव कार्य में जुटे हैं और मलबा हटाने में मदद कर रहे हैं। एम्बुलेंस मौके पर नहीं पहुंच पा रही है, उसे 50 मीटर की दूरी पर खड़ा करना पड़ा। इस इमारत का मालिकाना हक महाराष्ट्र आवास एवं विकास प्राधिकरण के पास है। संस्था के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। बचाव कार्य में मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की टीमें भी मौके पर पहुंच गयी हैं।