INDORE NEWS : CAA के विरोध में इंदौर के मुस्लिम भाजपा पार्षद ने छोड़ी पार्टी

इंदौर : संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को संविधानविरोधी प्रावधान बताते हुए यहां भाजपा के एक मुस्लिम पार्षद ने पार्टी से 40 साल पुराना नाता तोड़ने की शनिवार को घोषणा की।शहर के वॉर्ड क्रमांक 38 से पार्षद उस्मान पटेल ने भाजपा की स्थानीय इकाई को भेजे पत्र में कहा कि वह पार्टी के सभी पद छोड़ रहे हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर वीडियो भी जारी किया। पटेल से पहले, सीएए के खिलाफ भाजपा के करीब 80 अन्य मुस्लिम नेताओं ने यहां पिछले महीने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता छोड़ने की घोषणा की थी।

क्या कहा वीडियो में? 

उस्मान ने कहा, ‘दोस्तो, मैं उस्मान पटेल खजराना इंदौर से पार्षद हूं। पिछले 40 वर्षों से भारतीय जनता पार्टी में रहकर आपकी सेवा करता आया हूं। स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयीजी के सिद्धांतों से प्रेरित होकर मैं भाजपा में आया था, लेकिन अब पार्टी अपने सिद्धांतों से बदल गई है।

बीजेपी नफरत की राजनीति कर रही है, जो सीएए-एनपीआर लाया गया है, वो मुस्लिम विरोधी है, देश के संविधान के खिलाफ है। इसलिए मैं उस्मान पटेल अपने समस्त कार्यकर्ताओं के साथ भाजपा से इस्तीफा दे रहा हूं। मेरी कौम की जो मां-बहनें, भाई, बुजुर्ग सड़कों पर बैठे हैं, मैं उनके साथ हूं और हमेशा रहूंगा। हिंदुस्तान…हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई से मिलकर बना है। यही हमारे देश की ताकत है। हिंदुस्तान जिंदाबाद…! हिंदू मुस्लिम एकता जिंदाबाद… देश का संविधान जिंदाबाद… 

कौन हैं उस्मान पटेल?  

इंदौर में खजराना के वॉर्ड- 38 के उस्मान पटेल, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से बेहद प्रभावित थे और उन्हीं से प्रेरित होकर वह भाजपा में शामिल हुए थे। वह CAA और NRC को लेकर पार्टी से खफा थे। बता दें कि इस मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र से दो बार पार्षद चुने गए।